हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही कैसे निपटें यहाँ देखें पूरी जानकारी

By | May 9, 2021

हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही कैसे निपटें यहाँ देखें पूरी जानकारी

कोरोना वायरस एक बड़े वायरस परिवार का सदस्य है जो मनुष्यों अथवा जानवरों में बीमारी का कारण है। मनुष्य में कोरोना वायरस सामान्य सर्दी से लेकर मध्य पूर्व श्वसन सिंड्रोम (MIRS) और गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम (SARS) जैसी कई गंभीर बीमारियां उत्पन्न करता है। सबस़े हाल ही में खोज़े गए कोरोनावायरस स़े COVID-19 नामक कोरोनावायरस बीमारी उत्पन्न होती है। दोस्तों, कोविड -19 कुछ हद तक एक घातक बीमारी अथवा संक्रामक रोग नहीं है। लेकिन कोविड 19 का सक्रमण पुरे शरीर में फ़ैल जाने पर यह घातक साबित हो सकता है। हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही कैसे निपटें यहाँ देखें पूरी जानकारी । ध्यान रखें धूम्रपान, मदिरापान, कई मास्क पहनना, एंटीबायोटिक्स लेना कोविड 19 के खिलाफ प्रभावी उपाय नहीं है और हानिकारक हो सकते हैं।

अगर आपका डॉक्टर आपको घर रह कर कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज करने की सलाह देता है तो आपको अस्पताल जाने की जरुरत नहीं है। डॉक्टर की बात मानकर एवं यहाँ दिए गए आवश्यक निर्देशों का पालन कर के हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही निपट सकते हैं। 

-->

कोविड-19 के लक्षण क्या हैं ?

कोरोना वायरस कोविड-19 क़े सबस़े आम लक्षण बुखार, थकान और सूखी खांसी हैं। कुछ संक्रमितों में बदन दर्द, नासिका संकुलन, गले में खराश, नाक बहना, दस्त लगने की समस्याएं आदि प्रारम्भिक लक्षण हो सकते है। य़े लक्षण आमतौर पर हल्क़े होत़े हैं। संक्रमण बढ़ने के साथ साथ लक्षण भी गंभीर हो जाते हैं। हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण का घर पर ही इलाज किया जा सकता है। कोविड -19 स़े संक्रमित होऩे वाल़े प्रत्य़ेक 6 लोगों में स़े लगभग 1 व्यक्ति सीरियस हो जाता है और उस़े सांस लेने में दिक्कत होती है। बड़ी उम्र के लोगों, और उच्च
रततचाप, हृदय की समस्याओं या शुगर जैसी समस्याओं स़े ग्रस्त लोगों में गंभीर संक्रमण होऩे की अधिक सम्भावना होती है। 

हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही कैसे निपटें यहाँ देखें पूरी जानकारी

हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही कैसे निपटें यहाँ देखें पूरी जानकारी

दोस्तों, अधिकतर लोग (लगभग 80%) बिना विशेष उपचार के कोरोना वायरस बीमारी से ठीक हो जाते हैं। अब घर पर कोरोना वायरस से निपटना बहुत आसान है। लेकिन इसके लिए दिए गए निर्देशों का पालन करना आवश्यक है।

  1. केवल डॉक्टर द्वारा बताई गयी दवा ही खाए कोविड 19 का खुद से ही इलाज न करें। लहसुन, कपूर और अजवाइन जैसी घरेलु चीजों से ऑक्सीजन लेवल में कोई सुधर नहीं होता है।
  2. अगर शरीर का तापमान बहुत अधिक हो, और दर्द हो तो हर चार से छह घंटे में पेरासिटामोल (500 मिलीग्राम) खाएं। ध्यान रहे, 24 घंटों में पेरासिटामोल की चार खुराक से ज्यादा न खाएं।
  3. शरीर में पानी की मात्रा की कमी न होने दें, पानी पीते रहे और अगर आपको किसी चीज का स्वाद न भी पता चले तो भी पौष्टिक भोजन करते रहे।
    हालाँकि किसी तरह के खाने से कोविड 19 का इलाज या उपचार होने की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन पौष्टिक भोजन आपके शरीर को जल्दी स्वस्थ होने में मदद करता है।
  4. पानी में भीगा हुआ तौलिया या रुमाल अपने सर (टेपिड स्पोंजिंग) पर रखें। लेकिन इसके लिए ठन्डे पानी का उपयोग न करें।

कोविड-19 से बचने के लिए आवश्यक सावधानियां

जब कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति खांसता, छींकता है या सांस छोड़ता है तो नाक या मुँह से निकलने वाली छोटी बूंदों के माध्यम से यह बिमारी एक संक्रमित व्यक्ति से दूसरे स्वस्थ व्यक्ति में फ़ैल जाती है। इस से बचने के लिए दी गयी सावधानियां आवश्यक है।

  1. किसी भी व्यक्ति के सीधे संपर्क में न आएं।
  2. बाहरी वस्तुओं एवं सतहों को न छुएं।
  3. बीमार व्यक्ति से 1 मीटर से अधिक दूरी बनाये रखें।
  4. बाथरूम का उपयोग करने के बाद हाथ साबुन से धोएं।
  5. खाऩे स़े पहल़े नियमित रूप स़े हाथ साफ करें
  6. मुँह पर मास्क लगा कर रखें।
  7. अपनी आँख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
  8. अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें।
  9. अपऩे हाथों को अल्कोहल युक्त सांइटिज़ेर स़े नियमित रूप से साफ़ करें।

हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही कैसे निपटें

MOHFW Guidelines about COVID19 >>

यदि आप कोरोना वायरस से संक्रमित है तो क्या करें ?

यदि आप कोरोना वायरस से संक्रमित है या किसी भी प्रकार के लक्षण दिखाई देते हैं तो खुद को दूसरों से अलग करें एवं चिकित्सक से परामर्श ले। बिना किस की सलाह के ही खुद को सेल्फ आइसोलेट करें। ध्यान रखें सेल्फ़-आइसोलेशन के दौरान हवादार कमरे में रहना एवं अलग बाथरूम इस्तेमाल करना ज़रूरी है। संक्रमित लोगों को सार्वजनिक यातायत के साधन, कैब या टैक्सी के इस्तेमाल से भी बचना चाहिए। सैंपल दिए जाने के बाद रिपोर्ट आने तक कही भी बहार न जाएं एवं किसी के संपर्क में न आएं। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर सभी लोगों जिनसे आप मिले हो को सूचित करें एवं उन्हें भी कोरोना जांच कराने की सलाह देवें।

Note: हल्के प्रभाव वाले कोविड-19 संक्रमण से घर पर ही कैसे निपटें इस सम्बन्ध में सम्पूर्ण जानकारी ऊपर दी गयी है। अतः आप सभी से निवेदन है की डॉक्टर से परामर्श लेकर ही आवश्यक कदम लेवें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *